Aristotle के महान अनमोल विचार जो आपको सबसे ज्यादा महान बना दे

Aristotle

Aristotle या अरस्तु एक यूनानी दार्शनिक थे।

वे प्लेटो के शिष्य व सिकंदर महान के गुरु थे।इनका जन्म 384 BC तथा मृृत्यु 322 BC पूर्व हुआ था।

 

अरस्तू के महान अनमोल विचार

 

1. कोई भी उस व्यक्ति से प्रेम नहीं करता, जिससे वो डरता है।

 

2. Aristotle, जो सभी का मित्र होता है वो किसी का मित्र नहीं होता है।

 

3. शिक्षा बुढ़ापे के लिए सबसे अच्छा प्रावधान है।

 

प्लेटो के अनमोल विचार हिन्दी में 

 

4. मनुष्य प्राकृतिक रूप से ज्ञान कि इच्छा रखता है।

 

5. Aristotle, डर बुराई की अपेक्षा से उत्पन्न होने वाले दर्द है।

 

6. मनुष्य के सभी कार्य इन सातों में से किसी एक या अधिक वजहों से होते हैं। मौका, प्रकृति, मजबूरी, आदत, कारण, जुनून, इच्छा।

 

7. बुरे व्यक्ति पश्चाताप से भरे होते हैं।

 

8. जो व्यक्ति एकांत में खुश रहता है या तो वह एक जानवर होता है या फिर भगवान।

 

9. Aristotle, अगर इस दुनिया में औरते नहीं होती तो इस दुनिया की सारी धन – दौलत बेकार होती।

 

10. हम बहादुर काम के द्वारा ही बहादुर बन सकते है।

 

11. युवा आसानी से धोखा खाते है क्योंकि वो हमेशा ही जल्दबाजी करते है।

 

12. हमें न तो कायर होना चाहिए और न ही अविवेकी बल्कि हमें साहसी होना चाहिए।

 

13. सीखना कोई बच्चों का खेल नहीं है। हम बिना दर्द के कुछ भी नहीं सीख सकते।

 

14. शिक्षा की जड़ें हमेशा कड़वी होती है लेकिन उसके फल मीठे होते है।

 

15. Aristotle, अपने चरित्र के द्वारा हम कोई भी बात मनवा सकते है।

 

16.  संकोच युवाओ के लिए एक आभुषण की तरह है तो बड़े उम्र के लोगो के लिए धिक्कार की तरह।

 

17. अपने दोस्त का सम्मान करो, उसकी प्रशंसा करो और जब जरूरत पड़े उसी मदद करो।

 

18. धैर्य कड़वा होता है पर इसका फल मीठा होता है।

 

19. एक दोस्त आपकी दूसरी आत्मा के समान है।

 

20. दोस्तों के बिना कोई भी जीना नहीं चाहेगा, चाहे उसके पास बाकि सब कुछ हो।

 

21. खुशी हम पर निर्भर करती है।

 

22. आलोचना से बचने का एक ही तरीका है : कुछ मत करो, कुछ मत कहो और कुछ मत बनों।

 

23. कोई भी क्रोधित हो सकता है – यह आसान है, लेकिन सही व्यक्ति से सही सीमा में सही समय पर और सही उद्देश्य के साथ सही तरीके से क्रोधित होना सभी के बस कि बात नहीं है और यह आसान नहीं है।

 

24. हम युद्ध करते है ताकि हम शांति में रह सके।

 

 

Aristotle

 

 

Amitabh Bachchan के अनमोल उपहार 

 

25. शिक्षित और अशिक्षित में उतना ही फर्क है जितना की ज़िन्दगी और मौत में।

 

26. Aristotle, क्रोध एक उपहार है।

 

27. भगवान भी मज़ाक के शौक़ीन होते है।

 

28. दुनिया के सभी मूर्ख हमारे गुरू हैं और दुनिया में मूर्ख कभी मरते नहीं।

Spread the love
Author: Singh

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *