Subhash chandra bose के अनमोल विचार जो आपके अंदर ऊर्जा पैदा कर दे

Subhash chandra bose

Subhash chandra bose जो नेता जी के नाम से भी जाने जाते हैं। भारत के स्वतन्त्रता संग्राम के अग्रणी तथा सबसे बड़े नेता थे। इनका जन्म 23 January 1897 को तथा मुत्यु ………. को हुआ था।

 

सुभाष चन्द्र बोस के महान विचार

 

1. याद रखिये सबसे बड़ा अपराध अन्याय सहना और गलत के साथ समझौता करना है।

 

2. एक सैनिक के रूप में आपको हमेशा तीन आदर्शों को संजोना और उन पर जीना होगा : सच्चाई, कर्तव्य और बलिदान। जो सिपाही हमेशा अपने देश के प्रति वफादार रहता है, जो हमेशा अपना जीवन बलिदान करने को तैयार रहता है, वो अजेय है। अगर तुम भी अजेय बनना चाहते हो तो इन तीन आदर्शों को अपने ह्रदय में समाहित कर लो।

 

3. Subhash chandra bose, तुम मुझे खून दो मैं तुम्हे आज़ादी दूंगा !

 

महात्मा गाँधी के अनमोल विचार 

 

4. भारत में राष्ट्रवाद ने एक ऐसी शक्ति का संचार किया है जो लोगों के अन्दर सदियों से निष्क्रिय पड़ी थी।

 

5. आज हमारे अन्दर बस एक ही इच्छा होनी चाहिए, मरने की इच्छा ताकि भारत जी सके ! एक शहीद की मौत मरने की इच्छा ताकि स्वतंत्रता का मार्ग शहीदों के खून से प्रशश्त हो सके।

 

6. राष्ट्रवाद मानव जाति के उच्चतम आदर्शों सत्यम, शिवम्, सुन्दरम से प्रेरित है।

 

7. Subhash chandra bose, एक सच्चे सैनिक को सैन्य और आध्यात्मिक दोनों ही प्रशिक्षण की ज़रुरत होती है।

 

8. इतिहास में कभी भी विचार -विमर्श से कोई ठोस परिवर्तन नहीं हासिल किया गया है।

 

9. मैं अपने जीवन की अनिश्चितता से जरा भी नहीं घबराता हूँ।

 

10. मेरे मन में कोई संदेह नहीं है कि हमारे देश की प्रमुख समस्याएँ गरीबी, अशिक्षा, बीमारी, कुशल उत्पादन एवं वितरण सिर्फ समाजवादी तरीके से ही की जा सकती है।

 

11. ये हमारा कर्तव्य है कि हम अपनी स्वतंत्रता का मोल अपने खून से चुकाएं। हमें अपने बलिदान और परिश्रम से जो आज़ादी मिले, हमारे अन्दर उसकी रक्षा करने की ताकत होनी चाहिए।

 

12. Subhash chandra bose, जिस इन्सान में श्रद्धा की कमी होती है, वही इन्सान कष्टों और दुखो से घिरा होता है।

 

13. समय से पहले की परिपक्ववता अच्छी नहीं होती। चाहे वो किसी मनुष्य की हो या किसी वृक्ष की, क्योकि आगे चलकर उसका परिणाम भुगतना पड़ता है।

 

14. Subhash chandra bose, मुझे ये देखकर बहुत दुःख होता है कि मनुष्य – जीवन पाकर भी उसका अर्थ समझ नहीं पाया है। यदि आप अपनी मंजिल पर ही पहुँच नहीं पाए, तो इस जीवन का क्या मतलब।

 

15. अगर आपके जीवन में संघर्ष ही न हो और किसी डर का सामना ही ना करना पड़े, तो इस जीवन का स्वाद ही समाप्त हो जायेगा।

 

16. हमारा सफर कितना ही भयानक, कष्टदायी और बदतर हो सकता हैं लेकिन हमें आगे बढ़ते रहना ही हैं। सफलता का दिन दूर हो सकता हैं, लेकिन उसका आना अनिवार्य ही हैं।

 

Subhash chandra bose

 

क्रांतिवीर मदद लाल ढींगरा की जीवनी

 

17. हो सकता है कि एक महान विचार के लिए किसी की मृत्यु हो जाए, लेकिन उसके पश्चात् वह महान विचार लाखों लोगों के जीवन का हिस्सा बन जाएगा।

 

18. माँ का प्यार सबसे गहरा होता हैं – स्वार्थरहित। इसको किसी भी तरह से मापा नहीं जा सकता।

Spread the love
Author: Singh

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *