Two line shayari in hindi | हिंदी शायरी दो लाइन

two line shayari

Two line shayari, हम बात करेंगे short shayari की। two line ki shayari छोटी होती हैं। लेकिन मज़ेदार होती हैं।

 

Two line shayari in hindi| हिंदी शायरी दो लाइन

 

1. हम जैसा खोजने से भी नहीं मिलते हैं। हमें पाने के लिए भगवान् से रोज प्रार्थना करना होता हैं।

 

2. जो चाहती दुनिया है वो मुझ से नही होगा। 
समझौता कोई ख़्वाब के बदले नही होगा।

 

3. ख्यालों में ​उसके मैंने बिता दी ज़िंदगी सारी। ​​इबादत कर नहीं पाया खुदा नाराज़ मत होना​।

 

4. परिंदा उड़ कर चाहे शहर छोर जाए।
लौट कर वापस घर ही आता है।

 

5. मेरी मासूम सी मुहब्बत को ये हसीं तोहफे दे गए हैं। जिंदगी बन कर आए थे। और जिंदगी ले गए हैं।

 

Two line Shayari in hindi on life

 

Two line shayari in hindi | हिंदी शायरी दो लाइन

 

6. कुछ पाना है कुछ खोना हैं अब तो बस जिन्दगी ऐसे ही जीना हैं।

 

7. हम तो हम है सब कुछ पाने के बाद भी खुश हैं।

 

8. ना दिन बदला ना रातें बदली। बदली हैं तो बस हमारी जिंदगी।

 

9. रोज सबेरे उठता था। और सोचता था कि मैं ऐसा क्यों हूँ उस दिन समझ नहीं आया। लेकिन आज समझ आया जैसा भी हूँ। अच्छा हूँ मैं।

 

10. कभी तुम तो कभी हम दोनों मिलकर करेंगे मजे।

 

 

2 line shayari | हिंदी शायरी दो लाइन | new two lines Shayari in hindi

 

 

Two line shayari in hindi | हिंदी शायरी दो लाइन

 

 

11. हार जाना और रुक जाना। तो सब करते हैं हम कुछ अलग करेंगे।

 

12. हार कर रुक जाऊँ मैं इतना कमजोर नहीं हूँ। अभी तो मैं कुछ नहीं कर पाया हूँ।

 

13. प्यार को प्यार की तरह करेंगे। अब हम ही नहीं वो भी तरपेंगे।

 

14. तुम जब से मेरे सामने आई। उस समय से मैं तुम्हारा हो गया।

 

15. मेरे चाहने ना चाहने से क्या होगा? तुम भी चाहों तो कुछ बात होगी।

 

16. मैं हार जाऊं और खुदकुशी कर लूं। मैं इतना भी कमजोर नहीं हूँ।

 

Two line shayari in hindi on love

 

Two line shayari in hindi | हिंदी शायरी दो लाइन

 

17. हमें हराने के सपनें क्यों देखते हो? हमें हराने के लिए हमसे भी बड़ा कमीना होना पड़ेगा।

 

18. लोग हमे हराने के केवल सपने देखते हैं। उन्हें कोई बताये उनका सपना केवल सपना ही रह जायेगा।

 

19. आज आँखों में आंसू जरूर हैं लेकिन कल से फिर सामना करूंगा।

 

20. ये जिन्दगी भी न बहुत अजीब हैं जो चाहो वहीं नहीं देता। जिसको सब कुछ मानों आखिर में वह भी छोड़ के चला जाता हैं।

21. ये खुदा तुझसे क्या मांगु? जो चाहिए तु वह दे भी नहीं सकता।

 

22. ये खुदा ऐसा क्यों होता हैं? जो चाहिए वह तु दे भी नहीं सकता।

 

23. ये खुदा लोग तो दूसरों से परेशान हैं। हम तो अपने आप से परेशान हैं।

 

महत्वपूर्ण लिंक

तरूण कुमार के अनमोल विचार 

Spread the love
Author: Kumar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *